स्वर्ण मंदिर के पूर्व पुजारी का कोरोना से निधन, विदेश से आकर कई धार्मिक प्रोग्राम में हुए थे शामिल!

स्वर्ण मंदिर के पूर्व हजूरी रागी और पदमश्री निर्मल सिंह खालसा का गुरुवार सुबह पंजाब के अमतसर में एक अस्पताल में हदय गति रूकने से मृत्यु हो गई।

खास खबर पर छपी खबर के अनुसार, उनका एक दिन पहले ही कोरोनावायरस परीक्षण पॉजिटिव निकला था। इसके साथ ही कोविड-19 के कारण पंजाब में मरने वालों की संख्या बढ़कर पांच हो गई।

62 वर्षीय निर्मल सिंह हाल ही में यूके से लौटे थे और अमृतसर के गुरु नानक देव अस्पताल में उनका इलाज चल रहा था।

सांस लेने में दिक्केत और चक्कर आने की शिकायत के बाद उन्हें 31 मार्च को अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

29 मार्च को श्री गुरु रामदास रिसर्च इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज में उनका परीक्षण कियर गया इसके बाद उन्हें गुरु नानक अस्पताल में भेजा गया।

स्थानीय पुलिस ने अमृतसर में इस घातक वायरस के प्रसार को रोकने के लिए निर्मल सिंह के आस-पास के घरों को सील कर दिया है।

निर्मल सिंह पद्म श्री पुरस्कार से सम्मानित होने वाले स्वर्ण मंदिर के पहले हजूरी रागी थे। उन्हेंस 2009 में यह सम्माुन मिला था। अभी विदेश से लौटने के बाद उन्होंने दिल्ली और कुछ अन्य स्थानों पर बड़े धार्मिक आयोजन किए थे।