अरब देशों में चाँद के दीदार का इंतज़ार, जानें कब मनाई जाएगी ईद

संयुक्त अरब अमीरात, सऊदी अरब सहित खाड़ी देशों में लोग चाँद का दीदार करने को बेताब हैं. खाड़ी देशों के मुस्लिम देशों में आज रमजान के 29 रोजे पूरे हो गए हैं. ऐसे में वहां अगर आज चाँद दिखा तो शनिवार को ईद मनाई जाएगी. चाँद की तस्दीक (कन्फर्म) करने के लिए गल्फ कोऑपरेशन काउंसिल के देशों में लोग आधिकारिक ऐलान का इंतज़ार कर रहे हैं. अगर आज चाँद नहीं दिखता है तो खाड़ी देशों में ईद रविवार को मनाई जाएगी.

खाड़ी देशों में रमजान के 29 रोजे पूरे हो गए हैं. ऐसे में आज पूरी संभावना है कि वहां चाँद दिख जाए. चाँद देखने को सभी की निगाहें आसमान की ओर लगी हुई हैं. अगर आज चाँद नहीं दिखा तो शनिवार को 30वां रोजा होगा और शनिवार को चाँद देखा जाएगा. ईद रविवार को मनाई जाएगी.

बता दें कि इस्लामिक कलेंडर में 29 या 30 दिन होते हैं. अगर खाड़ी देशों में 30 रोजे पूरे हो गए तो शनिवार को चाँद दिखेगा और रविवार को ईद मनाई ही जाएगी. गल्फ कोऑपरेशन काउंसिल के देशों में सऊदी अरब, संयुक्त अरब अमीरात, बहरीन, कुवैत और क़तर आते हैं. यहाँ आज चाँद न दिखने की स्थिति में ईद रविवार को होगी.

खाड़ी देशों में 23 अप्रैल को रमज़ान का चाँद दिखा था और 24 अप्रैल से रमजान शुरू हो गए थे. खाड़ी देशों में आज जुमा (शुक्रवार) को रमजान के 29 दिन पूरे हो गए हैं.

बताया जा रहा है कि चाँद देखने के लिए संयुक्त अरब अमीरात ने कमेटी भी गठित कर दी है. ये कमेटी आज सरकार के मंत्रियों के साथ मीटिंग भी करने वाली है. सऊदी गज़ट की एक रिपोर्ट के अनुसार, रियाद के पास स्थित मजमाह यूनिवर्सिटी का कहना है कि जुमा को चाँद देखे जाने की संभावना कम है.