अमेरिका – डोनाल्ड ट्रंप ने राष्ट्रपति चुनाव टालने का दिया सुझाव

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने गुरुवार को साल के अंत में होने वाले राष्ट्रपति चुनाव को टालने का सुझाव दिया है। ट्रंप ने कहा कि चुनाव में मेल इन सिस्टम से वोटिंग होनी है। ऐसे में यह अमेरिका के इतिहास के सबसे गलत और फर्जी चुनाव होंगे। उन्होंने वोटिंग के दौरान धोखाधड़ी की आशंका जताई है।

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ट्वीट किया, ‘वैश्विक मेल इन वोटिंग (न कि अनुपस्थित मतदान, जो कि अच्छा है) से 2020 का चुनाव इतिहास का सबसे ज्यादा गलत और धोखाधड़ी वाला साबित होगा। यह चुनाव अमेरिका के लिए शर्मनाक होगा। चुनाव कराने में तब तक देरी करें, जब तक लोग सुरक्षित रूप से मतदान करने में सक्षम न हो जाएं। मेल-इन वोटिंग के माध्यम से व्यापक मतदाता धोखाधड़ी का कोई सबूत नहीं है।’

बता दें कि अमेरिका में इस साल के अंत में राष्ट्रपति के चुनाव होने हैं। हालांकि, पूरे देश में कोरोना वायरस का कहर मचा हुआ है। वायरस से मरने वाले की संख्या डेढ़ लाख से अधिक हो गई है। न्यूयॉर्क में सबसे अधिक 32,658, कैलिफोर्निया में 8,724, फ्लोरिडा में 6,332 और टेक्सास में 5,913 लोगों की मौत हुई है।

इसके अलावा, प्रमुख खेल आयोजनों को रद्द कर दिया गया है या बंद कर दिया गया है और देश भर में इस बात पर गंभीर संदेह है कि क्या स्कूल और विश्वविद्यालय सितंबर में फिर से खुलेंगे या नहीं।

वहीं, अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव की तारीखों को केवल कांग्रेस ही बदल सकती है। कानून के हिसाब से यह चुनाव तीन नवंबर को होने हैं। डेमोक्रेट्स का शासन निचले सदन पर है, ऐसे में इसके होने की संभावना बहुत कम लगती है। ट्रंप ने पहले कहा था कि उन्हें चुनाव के लिए आगे बढ़ने में कोई समस्या नहीं है।

दूसरी ओर विपक्षी नेताओं का कहना है कि अमेरिकी चुनावों में धोखाधड़ी होने का कोई सबूत नहीं है। इसके अलावा, मेल-इन वोटिंग की जटिल प्रक्रिया को बेहतर बनाए जाने की जरूरत है।